करतारपुर कॉरिडोर का निर्माण शुरू

19-Mar-19 06:10:45
0
62
SUPPORT US BY SHARING

 करतापुर कोरिडोर के निमार्ण का कार्या शुरू हो चुका है। आज नैश्नल हाईवे अर्थोरिटी ऑफ इंडिया ने भारत-पाक जीरो लाईन से करीब 10 मीटर दूरी पर भारतीय गांव पक्खो के टाहली में किसान लक्खा सिंह की जमीन में काम शुरू कर दिया। इस दौरान लैंड पोर्ट अर्थोरिटी के अधिकारी, नैश्नल हाईवे अर्थोटी ऑफ इंडिया के अधिकारी औरएसडीएम डेरा बाबा नानक व पंजाब के कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह  रंधावा भी मौजूद रहे। लक्खा सिंह किसान ने कहा कि गुरू नानक देव जी के गुरदवार के दर्शनों के लिए जगह दे रहे हैं तकि लोग अच्छी तरह से दर्शन कर सकें।
यह है भारतीय सीमा से करीब 10 मीटर दूरी पर गांव पक्खोके टाहली साहिब के रहने वाले किसान लक्खा सिंह की जमीन। जिसे किसान ने पाकिस्तान स्थित गुरदवारा श्री करतापुर साहिब के दर्शनों के लिए बनाए जा रहे कॉरीडोर के लिए अपनी सहमती से सरकार को दे दिआ और अब उसके खेत से कच्ची गेंहूं काट कर कोरीडोर का निर्माण शुरू कर दिया गया है। एसडीएम डेरा बाबा नानक गुरसिमरन सिंह डिल्लो ने कहा कि गुरू नानक देव जी के गुर पर्व से पहले काम पूरा किया जाना है। हमने जमीन अक्वायर करवा कर काम शुरू करवा दिया है। जबकि जिन किसानों ने एतराज जताया है उनसे भी बात की जा रही है। लैंड पोर्ट अर्थोरिटी, बीएसएफ नैश्नल हाईवे अर्थोरिटी व अन्य विभागों की मीटिंग कल होने जा रही है। चैक पोस्ट का काम शुरू कर दिया गया है। कुल 50 एक्ड जमीन पर काम होना है और जिस जगह पर जरूरी काम है वह शुरू कर दिया गया है।
नैश्नल हाईवे अर्थोरिटी  के मैनेजर सुखदेव सिंह कहा कि इंटीग्रेटिड चैक पोस्ट बनोने जिम्मेदारी उनके विभाग की मिली है उसका काम शुरू कर दिया है। हम चाहते हैं गुरू जी की जयंती से पहले पहले काम पूरा किया जा सके। कल इस की टैक्निकल कमेटी की बैठक होगी।
कोरीडोर के लिए लक्खा सिंह ने बिना किसी टालमटोल के जमीन दी है। इस का मै अपनी और संगत की तरफ से धन्यवाद करता हूं। बिना पास्पोर्ट की समस्या आ रही है, हमारी कोई पहचान हो और बिना पास्पोर्ट के वहां श्रधालू दर्शन कर वापिस आने की मांग है और साथ ही हमारी मांग है कि दस से पंदरा हजार श्रधालू दर्शनों के लिए जाने चाहिए।
वही जिस किसान के खेत से काम शुरू किया गया लक्खा सिंह ने कहा गया कि उसकी करीब 15 किले जमीन आती जो अक्वायर की गई है। गुरू नानक नाम लेवा संगत की तरफ से काफी लंबे समय से प्रमात्मा से अरदास की की जा रही थी कि श्री करतापुर साहिब के खुले दर्शन करने के लिए रास्ता खुले अब समय आया है तो हमका भी फर्ज है कि हम अब पहल करे। बाकी सरकार की तरफ से जमीन का जो मुअवजा दिया जाएगा वह तो मिलना ही है।

SUPPORT US BY SHARING