बिक्रम मजिठिया ने रखवाए अखण्ड पाठ

0
68
SUPPORT US BY SHARING

अमृतसर के रेल हादसे में मारे गए लोगो की आत्मिक शांति के किये पंजाब के पूर्व कैबिनेट मिनिस्टर बिक्रम मजिठिया ने जोड़ा फाटक पर गुरुद्वारे के अंदर अखण्ड पाठ रखवाए इस मौके बिक्रम मजिठिया ने कहा कि गलती मिठू मदान की ही है कोई परमिशन नही ली गयी क्योंकि कार्यक्रम में नवजोत सिंह सिधु की पत्नी आ रही थी उन्होंने कहा कि इस हादसे में लोगो को इंसाफ की उम्मीद है लेकिन इंसाफ मिलता नजर नही आ रहा है |

अमृतासर के जोड़ा फाटक पर हुए रेल हादसे में मारे गए लोगो की आत्मिक शांति के लिए पंजाब के पूर्व कैबिनेट मिनिस्टर बिक्रम मजिठिया ने आज अखण्ड पाठ रखवाए  इस मौके बिक्रम मजिठिया ने कहा कि मारे गए लोगो के परिजनों को इंसाफ मिलता नजर नही आ रहा है सब जगह राजनीति की जा रही है क्या सरकार दुवारा दिए गए पांच पांच लाख रुपये से इनका घर चल जाएगा  पीड़ितों के परिवार वालो को एक एक करोड़ रुपये दिए जाने चाहिए उनका कहना है कि ये लोग गरीब परिवारों से सम्बन्ध रखते है सिधु की पेमिशन से ही दशहरा मनाया जा रहा था और एलसीडी रेलवे फाटक लाइन पर ही लगाई गई थी और हैरानी वाली बात ये है कि अखण्ड पाठ करवाने के लिए भी दबाव बनाया जा रहा है उनका कहना है कि जब तक इन पीड़ित परिवारों को इंसाफ नही मिलता वह तब तक इन परिवारों के लिए लड़ाई लड़ेंगे और जो डिवीसीनल कमिश्नर बनाया गया है वह भी नवजोत सिधु का चहेता है इसकी जांच हाई कोर्ट के दुवारा की जानी चाहिए नही तो परिवारों को इंसाफ नही मिलेगा

वही इस मामले में।पीड़ित परिवारों को कहना है कि घर मे एक ही मैम्बर कमाने वाला था लेकिन अब भी वो नही रहा और इंसाफ मिलना बहुत मुश्किल लग रहा है उनकी मांग है कि आरोपी पर सख्त से सख्त करवाई हो


SUPPORT US BY SHARING

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here