सिद्धू के समर्थन में आए अमृतसर के काउंसलर

18-Oct-27 07:27:25
0
127
SUPPORT US BY SHARING

दसहरे वाले दिन अमृतासर में हुए रेल हादसे पर अब मोतो के ऊपर राजनीति होती दिखाई दे रही है जहां एक तरफ अकाली भाजपा कांग्रेस को घेरने की तैयारी कर रही है वही दूसरी तरफ कांग्रेस का कहना है कि अकाली भाजपा के नुमाइंदे खुद कुछ नही कर रहे सिर्फ राजनीति कर रहे है और उनके दुवारा मृतकों के परिजनों और घायलो के परिजनों से मिला जा रहा है और उनकी सहायता की जा रही है आज नवजोत सिंह सिधु के ईस्ट एरिया के पार्षदों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और दशहरे के आयोजक मिठू मदान और नवजोत कौर सिधु का बचाव किया 

अमृतासर के सर्कट हाउस में मीडिया से बहस रहे ये अमृतासर के ईस्ट एरिया के पार्षद है और ईस्ट विधानसभा एरिया नवजोत सिंह सिधु के एरिया में आता है जहां दशहरे वाले दिन एक बड़ा रेल हादसा हो गया और उसमें कई लोगो की मौत हो गयी और कई लोग ज़िन्दगी और मौत के बीच मे जंग लड़ रहे है इकठे हुए पार्षदों के कहना है कि उन्हें भी दुख है कि इतने घर उजड़ गए और वह कभी नही चाहते थे कि ऐसा हादसा हुआ लेकिन अब मोतो के ऊपर सियासत की जा रही है एक तरफ वह मदद कर रहे है परिवारों की और दूसरी तरफ अकालीदल सियासत कर रहा है अब लखबीर सिंह नामक युवक अकालीदल के साथ मिल कर शिकायत दर्ज करवा रहा है लेकिन हादसे वाले दिन लखबीर सिंह खुद कह रहा था कि ये कसूर रेलवे का है अकालीदल को चाहिए कि मोतो के ऊपर सियासत न करके परिवारों के लिए मदद के लिए आगे आये उनका कहना है कि नवजोत सिंह सिधु ने बच्चो को अडॉप्ट किया राशन घरों में पहुंचाया जा रहा है दूसरी तरफ गिरीश का कहना है कि कुछ लोग इस मामले में सियासत कर रहे है पहले दिन बयान कुछ और अब कुछ और जो लोग दुनिया को छोड़ कर चले गए है उनके परिवारों की मदद की जाए हादसे वाले दिन नवजोत कौर सिधु हॉस्पिटल में गयी थी और वहां पर सेवा कर रही है परिजनों से मिला जा रहा है लेकिन सियासत करने वाले लोग ये नही समझ सकते

दूसरी तरफ नवजोत सिंह सिधु का कहना है कि लखबीर सिंह शिकायत कर्ता है और अब वह अपने बयान बदल रहा है कसूर उन सियासत दानों का कहना है कि जो हराम के पैसे से भरा पड़ा है ये साजिशें कभी कामयाब नही होगी और इन सियासत दानों के पर्दे फट रहे है उन्होंने कहा कि वह कन्या कुमारी के पास बैठे थे जैसे ही उन्हें पता चला वह उसी समय वापिस आ गए झूठे इल्जाम लगाए जा रहे है टारगेट किया जा रहा है ये सियासतदान डरते है उनसे इसलिए राजनीति कर उन पर गलत इल्जाम लगाए जा रहे है

This means that there might be smartphone tracker products that don’t buy research papers function quite right with your particular smartphone and cellular service.

SUPPORT US BY SHARING